नेताओं (Leaders) का चयन (Selection) जनता द्वारा

पार्टी द्वारा तय किया गया कि विभिन्न स्तरों पर सार्वजनिक चुनावों के परिणामो के बाद प्रजातांत्रिक जनता की पसंद की वरीयता (Merit) के आधार पर पार्टी के नेताओं का चयन होगा. इस वरीयता (Merit) के निर्धारण में निम्न आधार पर तय पॉइंट्स (Points) के आधार पर वरीयता (Merit) तय होगी और वरीयता (Merit) में नंबर एक रहने वाला पार्टी का एक नंबर नेता (Number One Leader) होगा –

वरीयता (Merit) फार्मूला (लोकसभा व विधान-सभाओं के लिए)

आधार / Basis आयु / Age कुल पॉइंट्स / Points
पूरे वोट प्रतिशत (दो दशमलव तक) / Vote Percentage X चुनाव के दिन पूरी आयु (दो दशमलव तक) =
+ शिक्षा पॉइंट्स / Education
+ पार्टी पद पॉइंट्स / Party Post
+ पार्टी अध्यक्ष / President Point

शिक्षा (Education) पॉइंट्स, पार्टी पद (Party Post) पॉइंट्स व पार्टी अध्यक्ष (President) विशेषाधिकार पॉइंट्स

शिक्षा / Education पॉइंट्स पार्टी पद / Party Post पॉइंट्स
उच्च व अति-विशिष्ठ शिक्षा (High and Extra Ordinary) 5 पार्टी अध्यक्ष (Party President) 5
प्रोफेशनल - टेक्निकल शिक्षा (Technical-Professional) 4 राष्ट्रीय (National) पदाधिकारी, प्रदेश अध्यक्ष व संयोजक (State President & Co-ordinators) 4
स्नातकोतर (Post Graduate) 3 प्रदेश (State) पदाधिकारी, जिला अध्यक्ष व संयोजक (District President & Co-ordinators) 3
स्नातक (Graduate) 2 जिला (District) पदाधिकारी, तहसील / मंडल अध्यक्ष व संयोजक (Tehsil / Mandal President & Co-ordinators) 2
माध्यमिक शिक्षा (Metric) 1 अन्य किसी भी स्तर का पदाधिकारी 1
पार्टी अध्यक्ष (Party President) द्वारा स्वेच्छिक विशेषाधिकार पॉइंट्स (अधिकतम) 5

स्पष्टीकरण के लिए उद्दाहरण : विधान-सभा चुनाव में 35.61% प्रतिशत वोट (Votes) प्राप्त कर जितने वाले स्नातकोतर (Post Graduate) उम्मीदवार की आयु (Age) 50 वर्ष 100 दिन है जो कि किसी भी पार्टी पद पर नहीं है, तो मेरिट के लिए उसके 1940.92 नंबर [ (35.61 वोट प्रतिशत + 3 शिक्षा पॉइंट) X 50.27 वर्ष ] माने जायेंगे.